Friday, April 7, 2017

नैनीताल के चश्मे (फोटो स्टोरी) Glasses of Nainital (Photo story)

17 जुलाई 2017
एक समय की बात है जब मेरी नई-नई पहाड़ों से जान-पहचान हुई थी । मेरे दो दोस्त इस जान-पहचान को रिश्तेदारी में बदलने के लिए मुझे नैनीताल ले जाना चाहते थे लेकिन मैंने मना कर दिया क्योंकि मेरा सारा काम ऑफिस के भूतिया कंप्यूटर पर ही होता था नहीं तो कौन कमबख्त रिश्तेदारी नहीं बनाना चाहता था और वो भी पहाड़ों से लेकिन समस्या थी बरगद से पेड़ सा भीमकाय कंप्यूटर जिसे बैग में डालकर नैनीताल नहीं ले जाया जा सकता था । समस्या का हाल मास्टर साब ने सुझाया जब उन्होंने अपना लैपटॉप साथ लेकर चलने बात कही । मास्टर का लैपटॉप बॉस के सामने लालीपॉप की तरह रख दिया जिसे मुहं में डालते ही उन्होंने “हाँ” की मोहर लगा दी इस सफ़र के लिए ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
चलो शुरू करते हैं चश्मों की कहानी

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
19 जुलाई 2010 की गरम शाम को हमने अपनी यात्रा शुरू की हरे और सफ़ेद रंग की कोल्ड्रिंक के साथ । हमारी ख़ुशी का ठिकाना नहीं था अरे भई हम भरी गर्मी में ठन्डे इलाके में जो जा रहे थे । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
रेल लगभग खाली- खाली ही थी इसलिए यहाँ पर हम तीनों का कब्ज़ा था । जिसका जो मन किया उसने वो किया और मास्टर ने ये किया । धन्य हो आप मास्टर 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
रात 11:30 बजे ट्रेन ने हमें काठगोदाम उतारा जहां से 300 रु देकर हम कुछ घंटों में नैनीताल उतरे । यहाँ हल्की -हल्की बारिश ने छींटे मारकर हमें पवित्र किया । अगली सुबह संदीप अपनी रिपोर्ट बनाता हुआ । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
अब मास्टर की बारी, लकड़ी के फर्श वाला ये कमरा हमें 600 रु में मिला लेकिन अभी तो ये हमारे लिये दफ्तर से कम नहीं था ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
चश्मों की दूकान पर अचानक कदम रुक गये जब सिर पर 10-10 चश्मे लगाये एक भाई जी ने आवाज लगायी चश्मों में चश्मे “नैनीताल के चश्मे”, आइये-आइये और ले जाइये मात्र 100 में । बहती गंगा में हाथ धो डाले और 2 चश्मे 150 में अपनी नाक पर टिका डाले । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
नैनीताल का चक्कर लगाते हुए मास्टर अपने स्टाइलिश अंदाज़ में । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
शीतला मंदिर के गेट पर पहुंचे ही थे कि भीतर से अचानक बाँसुरी की मीठी धुन सुनाई पड़ी, मास्टर ने एक सच्चे कला प्रेमी होने का सबूत दिया जब नेत्रहीन बांसुरीवादक के साथ उन्होंने कुछ इत्मिनान के पल बिताये ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
नैनीझील का चक्कर लगाने के बाद हम एक सस्ती सी टैक्सी ढूँढने लगे मुक्तेश्वर जाने के लिए । खोज बारिश शुरू होते ही खत्म हो गयी जब एक मारुती आल्टो हमने 800 रु में बुक करी । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
रस्ते में सेब के बाग़ देखकर तीनों ने एक स्वर में बोला “स्टॉप”, और अगले ही पल हमारी खोपड़ी आगे वाली सीट से टकराई क्योंकि भाई जी ने एकदम से हैण्डब्रेक जो लगा दिए थे । उसकी गलती नहीं थी सेबों को देखकर हम चिल्लाये ही कुछ इस तरह थे । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
पेड़ों पर लाल सेब ऐसे लग रहे थे मानो कुदरत खुद दुल्हन के रूप में खड़ी हो सेब रूपी लाल बिंदी लगाके । सेबों के साथ हमारी पहली मुलाकात कुछ खट्टी रही क्योंकि मेरा वाला कच्चा सेब था । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
मास्टर एक विदेशी के साथ । आप हैं ‘रामवीर’ जो नेपाल के रहने वाले हैं । सेब के मौसम में यहाँ आकर कुछ पैसे कमा लेते है । ये पूरा-पूरा सीजन यहीं रहते है और बागों को बच्चों की तरह पलते हैं ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
 बच्चों का पलना हमें ज्यादा मंहगा नहीं पड़ा । 12 किलो 350 रु में हमें एक अच्छी डील लगी ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
मुक्तेश्वर मंदिर के पास 1 जोड़ी मुक्त हंसी । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
रोड से मंदिर की दुरी ज्यादा नहीं थी लेकिन हम दिल्ली के लोंडों का तो बैंड ही बज गया था इसे नापने में । “ऐसा पत्थर मैंने पहली बार देखा है”, मास्टर के शब्द सुनकर हम भी पहुंचे अजीब से चमकीले पत्थर को देखने के लिए, और हाँ सुस्ताने भी।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
30 मिनट लग गये मंदिर तक पहुँचने में, हालत लगभग पस्त थी लेकिन यहाँ से दिखते नज़ारों ने मोहित कर दिया । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
फेमस व्यू पॉइंट से जो नज़ारें दिखे उन्हें किसी कहावत में ढाला जा सकता है जैसे कि “कहीं धूप, कहीं छाँव” । बादलों को चीरते हुए सूरज की किरणें अपनी वफादारी से एक अनोखा प्रकाश-स्तम्भ बना रही थी । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
आज मैं ऊपर आसमां नीचे”, सिर्फ पहाड़ ही हैं जहां मास्टर अपनी फुल फॉर्म में रहते हैं हमेशा । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
दोपहर 2 बजते ही मेरा भी काम शुरू हो गया । फ़ोन पर 18 कॉल करके ग्राउंड टीम से डेटा लेना और फिर उसे एक्सेल में कम्पाइल करने में पूरा 1 घंटे का समय लगा । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
एक हरफनमौला खिलाडी की तरह मास्टर अपने चर्म पर, संगीत के जानकार होने के साथ-साथ उन्हें अध्यात्म की भी काफी जानकारी हैं । #प्राकृतिक _अवस्था 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
काले बादलों के बीच से आती सुनहरी किरणें किसी फुलझड़ी से कम नहीं लाग रही थी । प्रकृति ने खुद ही खुद को कल्पना बना दिया । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
पहाड़ों की पुकार सुनकर अनसुनी नहीं हुई और बरखा शुरू हो गई । ये नज़ारा किसी मिक्स सूप से कम नहीं था जहां हमारे आनंद के लिए बारिश, धूप, सूरज, किरणें, बादल, और पहाड़ सबकुछ मौजूद थे । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
साँझ होने से पहले ही तीनों ने नैनीताल में दस्तक दी जहां सबसे पहले हमने पेट भर खाना खाया फिर थोड़ी खरीदारी करी ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
बेशक बहुत से जीव हमारा इंतजार चिड़ियाघर में कर रहे थे लेकिन पहले इन्हें तो जी-भरकर देख ले जो कि इस बोर्ड के रक्षक हैं । #मास्टर_शेर_और_5_कुत्ते 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
नैनताल के जू में आपका स्वागत है । यहाँ किसी भी प्रकार का खाद्य पदार्थ ले जाना सख्त मना है, ये मैं इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि सोशल मेसेज देना भी तो जरुरी है । 25 रु का टिकट लेकर तीनों ने प्रवेश किया ये बोलते हुए कि “देखते हैं यहाँ के चिड़ियाघर में क्या-क्या मिलेगा" । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
बहुत से सुन्दर और सभ्य जीवों को देखने का मौका मिला लेकिन सभी में ये हिरण मेरा पसंदीदा रहा क्योंकि इसने खुद को छूने दिया ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
नैनीताल के चिड़ियाघर से दिखता एक और खुबसूरत और नायाब नज़ारा । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
मुक्तेश्वर, चिड़ियाघर के बाद अब बारी थी लोकल नैनीताल घुमने की, जहां शुरुआत हुई इस चर्च से जिसका नाम “संत फ्रांसिस कैथोलिक चर्च” है । हम दोनों की तरह ही संदीप ने भी “प्रभु ईशु” के सामने हाथ जोड़कर उनका अभिनन्दन किया ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
जब से हम तीनों नैनीताल वापस आये थे तब से ही मास्टर थोड़े क्रुद्ध दिख रहे थे और वजह थी संदीप का हर कहीं फोटो खिंचवाना । बेशक आइसक्रीम ठंडी थी लेकिन मूड गरम हो गया था । 

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
 ये तो सिर्फ एक झलक है अगर सारी फोटो दिखाऊँ तो मिनी-कॉमिक्स बन जाये । #संदीप_काऊबॉय

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
 150 रु में एक घंटा पैदल बोट का किराया पढ़कर तीनों ने कुछ देर गुफ्तुगू की और तय ये हुआ कि मास्टर नाव चलाने नहीं चल रहे है हमारे साथ । पहले तो मुझे लगा कि संदीप की वजह से मास्टर ने मना कर दिया है लेकिन वापस आकर पता चला कि मास्टर झील के किनारे बैठे कुछ संगीतकारों के पास बैठकर आनंद ले रहे थे ।

Naini Lake Sheetla Devi Mandir Boating Mukteshwar Temple Apple Orchid Nature Himalayas The Lake City Uttrakhand Uttranchal Free Soul Love Life Backpacking Mountain Call Rohit Kalyana Himalayan Womb
 इस सफ़र का आखिरी फोटो मेरे और संदीप के नाम और हो भी क्यों ना 1 घंटे बोटिंग करके पैरों में दर्द जो होने लगा था ।

उम्मीद करता हूँ सभी मुसाफिरों को नैनीताल के चश्मे लेख पसंद आया होगा । आपके सुझावों का स्वागत है ।
अगले लेख तक के लिए नमस्कार । और हाँ इस सफ़र पर 2300 रु. प्रति व्यक्ति खर्चा आया ।

4 comments:

  1. ब्लॉगिंग की सहायता से प्रकृति की तरफ इशारा करना दिलचस्प है। और हिंदी में है तो कहना ही क्या!

    प्रकृति को एक अलग ही तरह की अनुभति से दर्शन करना, , न कि एक शहरी की या टूरिस्ट की निगाहों से, वरन एक साधारण प्रकृति प्रेमी व्यक्ति की भांति से, अपने आप में एक असाधारण सुंदरता है।

    मोबाइल की कलम से निकले यह संस्मरण काफी कुछ अमिट स्मृतियां समेटे हुए हैं।

    अगले अंकों की प्रतीक्षा रहेगी - गौमुख, स्पिति,ताबो, कल्पा, छितकुल, सांगला,किन्नौर, ग्राम्फु, रूपकुंड, मानिला व इको विलेज, केयलोंग, आदि। - मास्टर :-)

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपके साथ ने हमेशा मेरा व्यक्तिगत विकास किया है। आशा करता हूँ ये सफ़र हमारा यूँ ही जारी रहेगा । अगले अंक जल्दी ही प्रकाशित होंगे । बहुत बहुत शुक्रिया लेखनी से निकले शब्दों के भाव को समझने के लिए ।

      Delete
  2. नैनीताल की पहली पोस्ट एक सांस मे पढ ली।

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद के साथ-साथ स्वागत है यहाँ।

      Delete